भारत बनाम साउथ अफ्रीका , पहला टेस्ट मैच : गेंदबाजों ने बरपाया कहर

167

दक्षिण अफ्रीका और भारत के लिए बीच न्यूलैंड्स क्रिकेट मैदान पर खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच का पहला दिन गेंदबाजों के नाम रहा। भुवनेश्वर की अगुआई में भारतीय गेंदबाजों ने दक्षिण अफ्रीका को 73.1 ओवरों में 286 रनों पर ही सीमित कर दिया था, लेकिन दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों ने भी दिन का खेल खत्म होने तक भारत के 11 ओवरों में 28 रनों पर ही तीन विकेट चटका दिए।स्टम्प्स तक चेतेश्वर पुजारा पांच रन बनाकर खेल रहे हैं जबकि रोहित शर्मा को अभी खाता खोलना बाकी है।दक्षिण अफ्रीका को पहले ही दिन पवेलियन भेजने वाली भारतीय टीम का मजबूत बल्लेबाजी आक्रमण अफ्रीकी गेंदबाजों के सामने अच्छी शुरुआत नहीं कर सका। पांचवें ओवर की चौथी गेंद पर वर्नोन फिलेंडर ने मुरली विजय (1) को डीन एल्गर के हाथों कैच करा भारत को पहला झटका दिया। विजय का विकेट 16 के कुल स्कोर पर गिरा जबकि दो रन बाद ही अच्छी लय में दिख रहे शिखर धवन (16) को डेल स्टेन ने अपनी ही गेंद पर कैच आउट किया।

कप्तान विराट कोहली से टीम को उम्मीदें थीं, लेकिन कोहली को पांच के निजी स्कोर पर मोर्ने मोर्केल ने विकेट के पीछे क्विंटन डी कॉक के हाथों कैच कराया।इससे पहले, दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया। लेकिन भुवनेश्वर ने 12 रनों तक तीन विकेट लेकर मेजबान टीम को अच्छी शुरुआत से वंचित कर दिया। भुवनेश्वर ने तीसरी ही गेंद पर एल्गर को खाता खोले बगैर पवेलियन भेज दिया। इसके बाद भुवनेश्वर ने एडिन मार्कराम और हाशिम अमला को अपना शिकार बनाया।शुरुआती झटके खा चुकी मेजबान टीम को अब्राहम डिविलियर्स (65) और फाफ डु प्लेसिस (62) ने बचाया और चौथे विकेट के लिए 114 रनों की साझेदारी की। पहले सत्र में पहले ही तीन विकेट गंवाने वाली अफ्रीका को इस जोड़ी ने भोजनकाल तक और कोई झटका नहीं लगने दिया।दिन के दूसरे सत्र में मेजबानटीम ने चार विकेट खोए जिसमें डिविलियर्स और प्लेसिस के विकेट भी शामिल थे। डिविलियर्स को अपना पदार्पण टेस्ट मैच खेल रहे जसप्रीत बुमराह ने बोल्ड किया। वहीं डु प्लेसिस दूसरे सत्र में अर्धशतक पूरा कर हार्दिक पांड्या की गेंद पर रिद्धिमान साहा के हाथों लपके गए। डिविलियर्स ने 84 गेंदें खेलीं और 11 चौके लगाए। प्लेसिस ने अपनी पारी में 104 गेंदों का सामना किया और 12 चौके लगाए।विकेटकीपर-बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक तेजी से रन बनाने के मूड में थे। उन्होंने आते ही कुछ अच्छे शॉट्स लगाए। डी कॉक ने 40 गेंदों में सात चौकों की मदद से 43 रनों की पारी खेली। उनकी पारी का अंत भुवनेश्वर ने साहा के हाथों कैच कराया।

वर्नोन फिलेंडर भी अच्छी लय में दिख रहे थे, लेकिन मोहम्मद शमी की एक शानदार गेंद ने गिल्लियां बिखेर दी। उन्होंने 35 गेंदों में चार चौकों की मदद से 23 रनों की पारी खेली।35 रन बनाने वाले केशव महाराज रन आउट हो गए। कागिसो रबादा (26) और मोर्केल (2) को अश्विन ने अपना शिकार बनाते हुए दक्षिण अफ्रीकी पारी का अंत किया।भारत की तरफ से भुवनेश्वर ने चार विकेट लिए। अश्विन को दो विकेट मिले। मोहम्मद शमी, बुमराह, और पांड्या को एक-एक विकेट मिला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.