ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधू, पांचवीं वरीयता प्राप्त किदाम्बी श्रीकांत और डेनमार्क ओपन की उपविजेता सायना नेहवाल फ्रेंच ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के क्वार्टरफाइनल में हारकर बाहर हो गए। ओलंपिक और विश्व चैंपियनशिप की रजत विजेता सिंधू को सातवीं सीड चीन की ही बिंगजियाओ ने 40 मिनट में लगातार गेमों में 21-13 21-16 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बना ली।

विश्व रैंकिंग में लगभग एक साल बाद नंबर एक बनी सिंधू पिछले सप्ताह डेनमार्क ओपन के पहले राउंड में बाहर हो गई थीं और फ्रेंच ओपन में उनकी चुनौती क्वार्टरफाइनल में टूट गई। इस हार के साथ सिंधू का चीनी खिलाड़ी के खिलाफ रिकॉर्ड 5-7 हो गया है।

विश्व में छठे नंबर के खिलाड़ी श्रीकांत का क्वार्टरफाइनल में मुकाबला विश्व के नंबर एक खिलाड़ी और टॉप सीड जापान के केंतो मोमोता से हो गया और जापानी जिग्गज ने भारतीय खिलाड़ी को 52 मिनट में 21-16 21-19 से हराकर अंतिम चार में स्थान बना लिया। इस हार के साथ श्रीकांत का मोमोता के खिलाफ 3-10 का रिकॉर्ड हो गया है। मोमोता ने श्रीकांत को पिछले सप्ताह डेनमार्क ओपन के सेमीफाइनल में हराया था। मोमोता ने श्रीकांत से पिछले सात मुकाबले जीते हैं। श्रीकांत ने आखिरी बार मोमोता को मार्च 2015 में इंडिया ओपन में हराया था।

डेनमार्क ओपन में उपविजेता रहीं सायना एक बार फिर ताइपे की तेई जू यिंग से पार नहीं पा सकीं। पिछले सप्ताह डेनमार्क ओपन के फाइनल में यिंग से हारने वाली सायना का क्वार्टरफाइनल में विश्व की नंबर एक खिलाड़ी ताइपे की तेइ जू यिंग से मुकाबला हुआ और सायना को 36 मिनट में हार का सामना करना पड़ा। जू यिंग ने नौंवें नंबर की भारतीय खिलाड़ी को लगातार गेमों में 22-20 21-11 से हरा दिया। सायना ने पहले गेम में तो संघर्ष किया लेकिन दूसरे गेम में उन्होंने समर्पण कर दिया। सायना का इस हार के बाद यिंग के खिलाफ 5-14 का करियर रिकॉर्ड हो गया है। सायना ने नवम्बर 2014 से अब तक यिंग से अपने पिछले 12 मुकाबले लगातार गंवाए हैं।

इस बीच सात्विकसैराज रेंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी ने मनु अत्री और बी सुमित रेड्डी को 31 मिनट में 21-17 21-11 से हराकर पुरुष युगल के सेमीफाइनल में जगह बना कर भारत की उम्मीदों को कायम रखा है। भारतीय जोड़ी का सेमीफाइनल में सामना शीर्ष वरीयता प्राप्त इंडोनेशिया की जोड़ी मार्कस गिडोन और केविन सुकमुलजो से होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.