अब छत्तीसगढ़ में सडक़ पर नंग नाच

141

रतनपुर में प्रेमी के सामने प्रेमिका के कपड़े उतरवाए

Minor Girl Molested in Publicअसम में गुआहाटी की सडक़ पर एक लडक़ी को सरेआम बेइज्जत करने का मामले को अभी कुछ ही दिन बीते थे कि छत्तीस गढ़ के रतनपुर के पास खूंटाघाट में अमानवीय कृत्य का मामला सामने आया है। चार हथियारबंद युवकों ने यहां घूमने के लिए आए एक प्रेमी जोड़े को पकड़ लिया और फिर युवक के सामने ही प्रेमिका के सारे कपड़े उतरवा दिए। हैवानियत की हदें पार करते हुए इन बदमाशों ने दोनों की न्यूड परेड भी कराई और इसका एमएमएस बना लिया। अब यह एमएमएस दर्जनों लोगों तक पहुंच चुका है।इसमें 15-16 साल की एक युवती और तीन-चार लडक़े दिखाई दे रहे हैं। बदमाश युवती को कपड़े उतारने के लिए मजबूर कर रहे हैं। युवती के गिड़गिड़ाने के बाद भी उनका दिल नहीं पसीजा। यह फिल्म करीब पांच मिनट की है। पीडि़त युवती रतनपुर की एक संभ्रात परिवार की है। घटना करीब 15 दिन पहले की है, लेकिन इसकी वीडियो क्लिपिंग अब लोगों तक पहुंच रही है। हथियारबंद युवकों ने प्रेमी से मारपीट करने के बाद लडक़ी को घेर लिए और जबरदस्ती उसके कपड़े उतरवाकर मोबाइल के जरिए अश्लील वीडियो क्लिपिंग बनाया। एक अखबार ने इस घटना की वीडिया क्लिपिंग बनाने का दावा किया है|

उल्लेखनीय है कि रतनपुर पर्यटन नगरी होने के कारण बिलासपुर, कोटा, तखतपुर आदि स्थानों से प्रेमी जोड़े यहां आते हैं। यहां इस तरह की घटनाएं पहले भी हो चुकी हैं। गिरोह का शिकार हो चुके एक युवक ने अपनी पहचान छिपाने की शर्त पर बताया कि खूंटाखाट के आसपास इस तरह के तीन-चार गिरोह सक्रिय हैं, जो पहले प्रेमी जोड़ों को डराते हैं और बाद में लड़कियों की अश्लील फिल्म बनाकर उनके साथ लुटपाट करते हैं। लोकलाज के भय से पुलिस में इसकी शिकायत भी नहीं की जाती|

रतनपुर के आसपास के गांवों में काफी संख्या में बाहरी प्रांत से आए लोग रह रहे हैं। इनमें से अधिकांश आपराधिक प्रवृत्ति के हैं। इन्हें कुछ स्थानीय बदमाशों का भी साथ मिलता है। भास्कर के पास घटना की मौजूद फिल्म में बदमाश युवक हरियाणावी बोल रहे हैं। इन्हें कुछ स्थानीय बदमाश भी लोग भी शामिल हैं। इनका काम प्रेमी जोड़ों को डरा धमकाकर पैसे व गहने लुटना है|

वीडियो क्लिप लूटपाट के इरादे से इन युवकों ने बनाया था और अब तक ऐसे दर्जनों अश्लील वीडियो बनाए जा चुके हैं, लेकिन किसी भी मामले में पुलिस ने सक्रियता नहीं दिखाई। रतनपुर पुलिस कार्रवाई के लिए शिकायत का इंतजार कर रही है। पुलिस शिकायत या सबूत के इंतजार में हाथ पर हाथ धरे बैठी रहती है। ऐसी घटनाओं में डरे हुए प्रेमी जोड़े शिकायत नहीं करते। इन गिरोहों का शिकार ज्यादातर युवक-युवतियां स्कूल और कालेजों से होते हैं, जो यहां घूमने के लिए आते हैं। आमतौर पर देखने में आया है कि कोई घटना होने पर पुलिस दिखावे के लिए कुछ दिनों तक खूंटाघाट के आसपास बल लगाया जाता है। मामला शांत होने पर बल हटने से गिरोह के सदस्य फिर से सक्रिय हो जाते हैं और लगातार घटनाओं को अंजाम देते हैं|

सडक़, मंदिर और थाना, कहीं भी महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं। गुवाहाटी में करीब 15 मनचलों ने लडक़ी से सरेआम छेड़छाड़ की, बाल नोचे, सडक़ पर घसीटा और इससे भी मन न भरा तो कपड़े फाड़ दिए। लडक़ी मिन्नतें करती रही, लेकिन न तो मनचलों का दिल पसीजा और न ही तमाशा देख रही भीड़ उसके बचाव में आई। तसल्ली की कुछ बात है तो बस यह कि मीडिया में आने और देश भर से बढऩे के जनमत बाद पुलिस भी जागी और का इन मनचलों पर शिकंजा कसने लगा है। अब इस बात की उम्मीद जगने लगी है कि इनमें से कोई भी बच नहीं पाएगा। मगर, प्रदेश के पुलिस प्रमुख (डीजीपी) की टिप्पणी ने घाव पर नमक छिडक़ने का काम किया है। उन्होंने पुलिस का बचाव करते हुए कहा कि पुलिस कोई एटीएम मशीन नहीं है कि कहीं भी-कभी भी हाजिर हो जाए\

इस बीच बिहार के बेगुसराय में दबंगों ने दलित महिला को सिर्फ इसलिए पीटा क्योंकि वह मंदिर में पूजा-अर्चना करने चली गई थी। लखनऊ में भी दरोगा महिला को केस में फंसाने की धमकी देकर उसकी अस्मत पर डाका डालने लगा। शुक्र है कि ग्रामीण महिला को बचाने के लिए पहुंच गए|

गुवाहाटी के जीएस रोड पर 15 लडक़ों ने एक लडक़ी से करीब आधे घंटे तक छेड़छाड़ की और उसके कपड़े फाड़ डाले। लडक़ी सडक़ पर मदद की गुहार लगाती रही लेकिन उसकी मदद के लिए कोई आगे नहीं आया। लडक़ी मिन्नतें करते हुए कहती रही कि मुझे घर जाने दो, तुम्हारी भी बहनें हैं, लेकिन लडक़ों ने उसे नहीं बख्शा|

सोमवार को घटी इस शर्मनाक घटना में पुलिस ने 3 दिन बाद तब कार्रवाई की, जब इस घटना का विडियो यूट्यूब पर अपलोड कर दिया गया। पुलिस ने 4 लडक़ों को गिरफ्तार कर लिया है और 12 लडक़ों की पहचान कर ली है।11वीं में पढऩे वाली लडक़ी एक पब में अपने दोस्त की बर्थडे पार्टी मनाकर रात में करीब साढ़े नौ बजे लौट रही थी। सडक़ पर लडक़ों ने उससे छेड़छाड़ शुरू कर दी। लडक़ी ने विरोध किया तो लडक़े उसके बाल नोचने लगे और कपड़े फाडऩे लगे। लडक़ों ने उसके साथ करीब आधे घंटे तक बदतमीजी की लेकिन उस लडक़ी को किसी ने नहीं बचाया|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.