महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला। राज ठाकने ने शुक्रवार को कहा कि ‘प्रधान सेवक’ शब्द सबसे पहले देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने दिया था। उन्होंने नई दिल्ली के तीन मूर्ति भवन में नेहरू मेमोरियल म्यूजियम में लगी हुई पट्टिका में लिखे शब्दों को बताते हुए कहा कि पंडित नेहरू के हवाले से लिखा है: ‘इस देश की जनता हमें प्रधानमंत्री ना कहे, प्रथम सेवक कहे।’ राज ठाकरे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए कहा उन्होंने सिर्फ ‘प्रथम सेवक’ को बदल कर ‘प्रधान सेवक’ कर दिया।’
यह देश की जनता के लिए बहुत कुछ समझ रही है। यह बात उन्होंने कांग्रेस के नेतृत्व वाले 56 दलों के महागठबंधन के लिए एक सभा को संबोधित करते हुए कहीं। राज ठाकरे ने कहा, ‘आप नेहरू और इंदिरा गांधी को गाली देते रहे, लेकिन आप अभी भी उनकी कॉपी करते हैं। पिछले पांच सालों के दौरान आपने हर मुद्दे पर सिर्फ झूठ बोला है।’ राज ठाकरे ने मोदी के उस आरोप को भी खारिज किया, जिसमें वह बार-बार कहते रहे हैं कि कांग्रेस परिवार से किसी ने भी जेल में जाकर भगत सिंह से मुलाकात नहीं की थी, जब वह स्वतंत्रता संग्राम के दौरान फांसी की सजा का सामना कर रहे थे। उन्होंने मोदी के पुराने भाषण बजाए, तर्क साबित करने के लिए एक पुराने अखबार की क्लिप पेश की, कि नेहरू ने वास्तव में भगत सिंह से जेल में दो बार मुलाकात की थी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.