मिशन 2019 के मद्देनजर दिल्ली के रामलीला मैदान में हो रही बीजेपी की दो दिवसीय राष्ट्रीय परिषद की बैठक का आज दूसरा दिन है। बैठक में हिस्सा लेने के लिए पीएम मोदी रामलीला मैदान पहुंच चुके हैं। बीजेपी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में 10 हजार कार्यकर्ता, सभी सांसद और विधायक शामिल हो रहे हैं।

लोकसभा चुनाव से पहले देश भर से जुटे क़रीब 12 हज़ार कार्यकर्ताओं के साथ इस बैठक को चुनावी शंखनाद के तौर पर देखा जा रहा है। कल बैठक के पहले दिन राम मंदिर का मुद्दा भी उठा। इससे पहले शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह और दिग्गज नेता लालकृष्ण आडवाणी समेत भाजपा के पदाधिकारियों ने दीप जलाकर सम्मेलन का शुभारंभ किया। भाजपा की राष्ट्रीय परिषद के सदस्यों और पार्टी के कार्यकर्ताओं की ओर से अमित शाह ने प्रधानमंत्री मोदी को अगड़ी जाति के गरीबों को 10 फीसदी आरक्षण प्रदान करने और वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) में राहत प्रदान करने के लिए धन्यवाद दिया और उनका विशेष आभार जताया।

केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने सपा-बसपा के गठबंधन पर करारा हमला बोला है. उन्होंने इसे आपसी दुश्मनों का गठबंधन करार दिया। बैठक को संबोधित करते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि अगले 5 महीने केवल चुनाव के महीने हैं. हर भाषण जो हम देते हैं या जो भी कार्यक्रम हम करते हैं उसमें हमें चुनाव में कैसे जीतना है इसपर ध्यान देना है। उन्होंने कहा कि देश का नेृतत्व किसके हाथों में जाने वाला यह चुनाव में मुद्दा होगा।दुनिया की कोई ताकत नहीं है जो हमें हरा पाए। हमारे पास मोदी के रूप में अच्छा नेता जिससे विपक्ष भी घबराते हैं। अरुण जेटली ने कहा कि, “कांग्रेस का शहजादा,बंगाल की दीदी हो,आंध्र प्रदेश के बाबू हो या यूपी की बहनजी हो, सब इच्छा रखते हैं और सबकी तलवारें चुनाव बाद निकलेंगी।”

साथ ही बैठक को संबोधित करते हुए अरुण जेटली ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जी ने राफेल डील में देश के हजारों करोड़ रूपये बचाए हैं. देश के गरीबों का जो पैसा कांग्रेस पार्टी ने लुटाया था, उसको आज मोदी सरकार वापस ला रही है।

बता दें कि आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी (SP) और बहुजन समाज पार्टी (BSP) की सीटों और गठबंधन का औपचारिक ऐलान लखनऊ में हो रहा है। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव बीएसपी सुप्रीमो मायावती के साथ ज्वॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसका ऐलान किया है। ‘बुआ’ (मायावती) और ‘भतीजे’ (अखिलेश) की ये प्रेस कॉन्फ्रेंस लखनऊ के गोमती नगर स्थित ताज होटल में चल रही है। बता दें कि 26 साल पहले हुए गेस्ट हाउस कांड के बाद एसपी-बीएसपी में आई दूरी के बाद यह पहला मौका है जब दोनों पार्टी के नेता एक साथ मीडिया से रू-ब-रू हुए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.