बरेली में एक ही परिवार के 4 लोगों की लूटपाट के बाद हत्या

139

knife

बरेली। शहर के वीर सावरकर नगर में डकैतों के एलआईसी के वित्तीय सलाहकार, उनकी पत्नी समेत दो बच्चों की सिर कुचलकर हत्या करने से इलाका दहला उठा। बताया जा रहा है कि हमलावर किचन की खिड़की काटकर घर में घुसे थे। सूचना डीआईजी और एसएसपी मौके पर पहुंचे हैं और जांच कर रहे हैं। पुलिस के मुताबिक घटना लूट के इरादे से अंजाम दी गई है। एक ही परिवार के चार सदस्यों की हत्या की खबर से पूरे शहर में दहशत फैल गई। पॉश कॉलोनी में हुई वारदात से लोग पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था पर भी सवाल उठा रहे हैं।
इज्जतनगर के गायत्रीपुरी कॉलोनी में रहने वाले नरेश सेठी एलआईसी में वित्तीय सलाहकार थे और बड़ा बाजार व्यापार मंडल के पदाधिकारी थे। उनकी पत्नी शिखा घर में ही ब्यूटी पार्लर चलाती थीं। बेटा शुभ विद्याभवन स्कूल में कक्षा 10वीं का और बेटी आस्था जीआरएम स्कूल में 8वीं की छात्रा थी। बुधवार सुबह करीब 5:30 बजे आस्था के स्कूल की वैन आई और कई बार हॉर्न बजाने के बाद भी गेट नहीं खुला। पड़ोस में रहने वाले अधिवक्ता केएच सिंह पटेल को शक हुआ तो वह गेट खोलकर अंदर गए। कमरे का दरवाजा खुला था।
अंदर ड्राइंग रूम में दोनों बच्चों की खून से सनी लाश पड़ी थी। दूसरे कमरे में नरेश और उनकी पत्नी शिखा का शव बिस्तर पर खून से लथपथ पड़ा था। उन्होंने तत्काल इसकी सूचना पुलिस को दी। आईजी वीएस मीणा, डीआईजी आशुतोष कुमार, एसएसपी आरके भारद्वाज के साथ क्राइम ब्रांच, फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंची। सभी लाशें फूल गई थीं और जबरदस्त बदबू आ रही थी। हालत देखकर लग रहा था कि घटना सोमवार की रात की है। पड़ोसियों के मुताबिक, सोमवार की रात करीब 9:30 बजे आखिरी बार नरेश को छत पर देखा था। घर की आलमारियां टूटी पड़ी थीं और सामान बिखरा था। शुरूआती तफ्तीश में पुलिस वारदात के पीछे लूट की आशंका जता रही है।
लाश की पोजीशन से आशंका है कि चारों कत्ल सोते समय किए गए। दंपती की लाश बिस्तर पर मिली हैं। बेटे की लाश भी बेड पर, जबकि बेटी आस्था का शव उसी कमरे में जमीन पर पड़ा था। किचन की खिड़की की ग्रिल टूटी मिली है। माना जा रहा है कि बदमाश मेन गेट फांदकर अंदर घुसे। उसके बाद किचन की खिड़की की ग्रिल तोड़ दी और कमरे में दाखिल हो गए थे। किचन में जूठे बर्तन मिले हैं। घर में शोभा नामक युवती काम करने आती थी। पूछताछ में उसने बताया कि मंगलवार को दिन में करीब 11 बजे वह आई। कई बार कालबेल दबाई लेकिन दरवाजा नहीं खुला तो वापस चली गई थी। आईजी वीएस मीणा ने बताया कि दो बच्चों समेत नरेश और उनकी पत्नी शिखा की सिर कुचलकर हत्या की गई है। आशंका है कि लूट के इरादे से बदमाश घर में घुसे थे और परिवार को मार डाला। पुलिस और क्राइम ब्रांच को वारदात का खुलासा करने के लिए लगाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.