अमेरिका ने IS पर साधा निशाना, अफगानिस्‍तान में गिराया सबसे बड़ा बम

137

वाशिंगटन। अमेरिका ने आईएस को निशाना बनाकर गुरुवार को अफगानिस्तान पर जोरदार हमला किया है। अफगानिस्तान में स्थित आईएस के कैंपों पर अमेरिकी सेना ने बड़ा हमला बोला। इस हमले को अब तक का सबसे बड़ा गैर परमाणु हमला माना जा रहा है। अमेरिका ने वहां ‘मदर ऑफ ऑल बॉम्ब’ का इस्तेमाल किया है। इस हमले में 20 भारतीयों के मारे जाने की आशंका है।
अमेरिका ने अपने कमांडर की मौत के बाद की कार्रवाई
अमेरिका सेना के मुताबिक अफगानिस्तान के नंगारहर प्रांत में हाल ही में आईएस के हमले में अमेरिका के विशेष सुरक्षा बल ‘ग्रीन बेरेट’ के कमांडर की जान चली गई थी। अमेरिका ने इस घटना के बाद इतना बड़ा कदम उठाया है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस हमले पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि उन्होंने अफगानिस्तान में बम गिराए जाने की अनुमति दी थी और इस अभियान को अत्यंत सफल करार दिया। ट्रंप ने व्हाइट हाउस में कहा, यह वास्तव में एक सफल अभियान रहा। हमें हमारी सेना पर गर्व है।
ट्रंप ने कहा, आतंकियों पर कार्रवाई तो होनी ही थी
ट्रंप ने कहा, मुझे नहीं पता कि इससे उत्तर कोरिया को संदेश मिलता है या नहीं। इससे कोई अंतर नहीं पड़ता। उत्तर कोरिया एक समस्या है। इस समस्या का समाधान निकाला जाएगाा। इस मिशन की जानकारी रखने वाले चार अमेरिकी सैन्य अधिकारियों ने बताया कि सेना ने अफगानिस्तान में सबसे बड़ा बम गिराया है। उन्होंने आगे कहा, मैंने सत्ता में आते ही कहा था कि, अमेरिका आतंकियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगा।
जीपीएस से नियंत्रित था ‘मदर ऑफ ऑल बम’
सूत्रों ने बताया कि जीबीयू-43/बी मैसिव ऑर्डिनेंस एयर ब्लास्ट बम गुरुवार को स्थानीय समयानुसार शाम साढ़े सात बजे गिराया गया। इस बम का निकनेम मॉब (एमओएबी) भी है। इसे ‘मदर ऑफ ऑल बम’ भी कहा जाता है। इसका वजन 21600 पाउंड है और यह जीपीएस से निर्देशित है। यह बम अमेरिका का शक्तिशाली गैर परमाणु बम है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.