नई दिल्ली।

लोकसभा के साथ ही साथ आईपीएल भी अपने अंतिम चरण पर पहुंच चुका है। प्लेऑफ में जगह बना चुकी दिल्ली कैपिटल्स का अगला लक्ष्य शीर्ष 2 में अपनी जगह कायम रखने का है। इससे उसे क्वॉलिफायर 1 खेलने का मौका मिलेगा और उसके पास टूर्नमेंट का खिताबी मुकाबला खेलने के दो चांस संभव होंगे। कैपिटल्स की टीम को इसके लिए आज राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ दिल्ली में होने वाले अपने अंतिम लीग मैच में उसे बड़े अंतर से हराना होगा। हालांकि इस मिशन में उसे अपने तेज गेंदबाज कगिसो रबाडा की कमी जरूर खलेगी, जिन्हें क्रिकेट साउथ अफ्रीका ने वर्ल्ड कप से पहले एहतियात बरतते हुए उन्हें स्वदेश बुला लिया है। अब ऐसे में देखना होगा कि आखिर दिल्ली क्या कमाल करती है।
कगिसो रबाडा अब आईपीएल के बचे हुए सत्र में नहीं खेल पाएंगे। वह कमर में जकड़न के कारण चेन्नै सुपर किंग्स के खिलाफ भी मैच में नहीं खेले थे। दिल्ली सात साल में पहली बार प्लेऑफ खेलेने जा रही है। चेन्नै के हाथों 80 रन से हारने के बाद दिल्ली को मनोबल बढ़ाने के लिए बड़ी जीत की जरूरत है। इससे वह अंकतालिका में भी दूसरे स्थान पर पहुंच जाएगी। फिलहाल दिल्ली 13 मैचों में 16 अंक लेकर तीसरे स्थान पर है।

इस समय मुंबई इंडियंस के 16 और चेन्नै के 18 अंक हैं। राजस्थान पर जीत से दिल्ली के पहले क्वॉलिफायर में खेलने की उम्मीद बढे़गी जिससे उसे 12 मई को होने वाले फाइनल में खेलने के दो मौके मिलेंगे। रबाडा की गैर मौजूदगी में दिल्ली की गेंदबाजी कमजोर लग रही है लेकिन कप्तान श्रेयस अय्यर को उससे ज्यादा चिंता बल्लेबाजों के एक इकाई के रूप में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाने की होगी। चेन्नै के खिलाफ दिल्ली का बैटिंग ऑर्डर चरमरा गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.