क्या यह टीम जीतेगी वर्ल्ड कप?

61

ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट हारने के बाद टीम इंडिया त्रिकोणीय श्रृंखला से भी बाहर हो गई। टीम की हार पर कप्तान धोनी कह रहे हैं कि टीम के खिलाड़ी थके हुए हैं और पूरी तरह फिट नहीं है। वर्ल्ड कप से पहले ऑस्ट्रेलिया दौरे को टीम इंडिया के बूस्ट की तरह माना जा रहा था, लेकिन टीम इंडिया के प्रदर्शन ने क्रिकेट प्रेमियों को निराश किया है। न गेंदबाज विकेट ले पा रहे हैं और न ही बल्लेबाजों के बल्ले से रन निकल रहे हैं, अब ऐसे में क्रिकेट प्रेमियों के सवाल में यह प्रश्न यह उठ रहा है कि क्या भारतीय शेर अपने वर्ल्ड कप खिताब को बचा पाएंगे। क्या 2011 के वर्ल्ड कप की तरह इस टीम में मैच विनर्स खिलाड़ी हैं। धोनी यह कह रहे हैं कि टीम के खिलाड़ियों को आराम चाहिए। धवन, रोहित और जडेजा जैसे खिलाड़ी आराम ही तो कर रहे हैं। ‘टीम के गब्बर’ के बल्ले पर गेंद नहीं आ रही है और वे क्रीज पर ज्यादा टिकते नहीं हैं और पैवेलियन आराम करने के लिए आ जाते हैं।

गेंदबाजी संयोजन को लेकर धोनी दुविधा में दिखाई दे रहे हैं। वे गेंदबाजों के लिए भी क्रम तय नहीं कर पा रहे हैं। इसका हल भी कैप्टन कूल को ढूंढना होगा। धोनी भी वर्ल्ड कप से पहले टीम के साथ प्रयोग करते जा रहे हैं और उनके सारे प्रयोग का टीम पर उल्टा असर पड़ रहा है। विराट कोहली की बल्लेबाजी क्रम के साथ छेड़छाड़ करने कोहली के प्रदर्शन पर असर पड़ा है। मैच से पहले कोहली को पता ही नहीं होता है कि वे किस क्रम पर बल्लेबाजी करने वाले हैं? इससे उनकी बल्लेबाजी पर असर पड़ा है। उन्होंने त्रिकोणीय श्रृंखला में 8 के औसत से मात्र 24 रन बनाए हैं। प्रशंसकों को उम्मीद है कि जब 15 फरवरी को टीम इंडिया पाकिस्तान के खिलाफ मैदान में उतरेगी टीम इंडिया के खिलाड़ी पुरानी लय में नजर आएगे।
India v Sri Lanka: Semi Final - ICC Champions Trophy

 

LEAVE A REPLY