यूपी में 4 से मोदी देंगे भाजपा के प्रचार को रफ्तार, पूर्वांचल पर रहेगी विशेष नजर

326

उत्‍तर प्रदेश में वर्ष 2017 का चुनाव अपने चरम पर है। एक फरवरी से भाजपा का प्रचार अभियान जोर पकड़ेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बसंत पंचमी यानी 1 फरवरी के बाद से यूपी में एक दर्जन जन सभाओं को सम्‍बोधित करेंगे। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर बेहद गंभीर भारतीय जनता पार्टी के प्रचार अभियान की कमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास ही रहेगी।

भारतीय जनता पार्टी के स्टार प्रचारक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बसंत पंचमी के बाद से उत्तर प्रदेश में करीब एक दर्जन चुनावी जनसभा करेंगे। पहले उनकी अधिक जनसभा होनी थी। भाजपा गुंडागर्दी व भ्रष्‍टाचार के खिलाफ पहले से ही कहीं अधिक धारदार आक्रमण करेगी वहीं रोजगार व सबको घर देने की बात भी दोहरायेगी।

व्‍यक्तिगत आरोप से भाजपा नेता रखेंगे परहेज 11 फरवरी को होने वाले पहले चरण के चुनाव के लिए प्रधानमंत्री की रैली चार फरवरी से शुरू होगी। इसके बाद उनका सात, दस तथा 12 फरवरी को जनसभा को सम्‍बोधित करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी का जोर सिर्फ मुद्दों पर ही होगा। किसी पर व्‍यक्तिगत आक्रमण से सभी भाजपा नेता परहेज करेंगे। पार्टी ने सभी सात चरण के लिए अलग-अलग चुनावी रैलियों की रणनीति बनाई है। जिसमें कुछ चरण के लिए रैलियों की संख्या ज्यादा रहेगी। कुछ में एक रैली ही होनी है। सर्वाधिक ज्यादा जोर पश्चिम उत्तर प्रदेश के पहले, दूसरे और तीसरे चरण पर रहेगा। आखिरी फेज में रैलियों की संख्या बढ़ सकती है।

योगी आदित्‍यनाथ व स्‍वामी प्रसाद मौर्य की प्रतिष्‍ठा दांव पर इस बार भाजपा पूर्वांचल में बेहतर प्रदर्शन करने की कोशिश में है। यहां योगी आदित्‍य नाथ व स्‍वामी प्रसाद मौर्य की प्रतिष्‍ठा दांव पर लगी है।

उत्तर प्रदेश के चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी ने 40 स्टार प्रचारकों की टीम तैयार की है। इस सूची के सुपर स्टार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही है। भारतीय जनता पार्टी ने इस बार उत्तर प्रदेश में प्रचार के असम मॉडल को लागू करने का फैसला कर लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.