गायत्री की बेटी बोली, मेरे पिता निर्दोष हैं

187

लखनऊ। गैंग रेप के आरोपी मंत्री गायत्री प्रजापति के बचाव में उनका परिवार उतर आया है। आपको बताते चलें कि रेप के आरोप में यूपी के पूर्व कैबिनेट मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति की जमानत इलाहाबाद हाईकोर्ट ने रद्द कर दी। जमानत रद्द किए जाने के बाद गायत्री प्रजापति के परिवारवालों ने सोमवार को यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ से न्याय की गुहार लगाई। प्रजापति की पत्नी और बेटियां सोमवार को मुख्यमंत्री से मिलने उनके आवास पर पहुंचीं। प्रजापति की बेटी ने पत्रकारों से कहा, “मुख्यमंत्री आदित्य नाथ से हमारी मुलाकात नहीं हो सकी है, लेकिन हम सरकार के एक मंत्री से मिले हैं । उन्होंने इस मामले को देखने को और सीएम के सामने उठाने का आश्वासन दिया है। साथ ही भरोसा दिया है कि अगर प्रजापति पर लगा रेप का आरोप झूठा होगा तो बिना किसी देरी के उन्हें न्याय मिलेगा। गायत्री प्रजापति के परिवार ने आगे कहा कि उनके पास पूरे सबूत है कि रेप के मामले में प्रजापति को झूठा फंसाया गया है और हम उनके लिए न्याय की मांग कर रहे हैं।

मेरे पिता को झूठा फंसाया गया है
प्रजापति की बेटी ने आगे कहा, “हमारे पास सबूत है कि इस अपराध में गायत्री प्रजापति पर झूठा आरोप लगाया गया है और जल्द ही योगी आदित्य नाथ को इन सबूतों को दिखाएंगे। उन्होंने कहा कि पुलिस के पास भी प्रजापति के खिलाफ कोई सबूत नहीं है फिर क्यों न्याय मिलने में देरी हो रही है। बता दें कि सपा नेता और पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति को जमानत देने वाले अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश ओम प्रकाश मिश्रा को सस्पेंड कर दिया गया था। यह कार्रवाई हाई कोर्ट की प्रशासनिक समिति के द्वारा की गई थी। प्रजापति की जमानत पर विरोध जताते हुए हाई कोर्ट ने कहा था कि जिन स्थितियों में जमानत दी गई, वह घोर आपत्तिजनक है। जज ओमप्रकाश मिश्रा ने जमानत देते हुए कहा था कि अभियुक्तों के साथ सहवास में महिला की सहमति थी। उन्होंने कहा कि अगर 3 साल से दुष्कर्म हो रहा था तो कहीं शिकायत क्यों नहीं की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here