बिप्लब कुमार देब ने सम्‍भाली त्रिपुरा की कमान

113

अगरतला। 25 साल बाद त्रिपुरा से लाल रंग उत रा और भग वा रंग चढा। बिप्लब कुमार देब ने त्रिपुरा की कमान संभाल ली है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने त्रिपुरा में नयी भाजपा सरकार को केंद्र के पूर्ण समर्थन का आश्वासन दिया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि तरक्की के रास्ते पर पूरा देश राज्य के साथ है। त्रिपुरा में पहली भाजपा सरकार के शपथ ग्रहण करने के बाद अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि पूर्वोत्तर क्षेत्र के पास अवसर और क्षमता है जिनका प्रदेश के विकास के लिए इस्तेमाल करना होगा।यहां असम राइफल्स ग्राउंड में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘मैं त्रिपुरा के लोगों से अपील करता हूं कि आइए, हम राज्य को नयी ऊंचाइयों पर ले जाएं ताकि हम लोगों की जिंदगी बदल सकें। मैं यह आश्वासन देना चाहता हूं कि विकास के रास्ते पर त्रिपुरा को केंद्र सरकार का पूर्ण समर्थन और सहयोग रहेगा तथा यह सहयोग सहकारी संघवादपर आधारित होगा।’’

इससे पूर्व, बिप्लब कुमार देब ने मुख्यमंत्री के रूप में और जिश्नू देब बर्मन ने उप मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। सात अन्य मंत्रियों ने भी शपथ ग्रहण की जिनमें आईपीएफटी के प्रमुख एन सी देबबर्मा भी शामिलहैं। प्रदेश की पहली भाजपा सरकार वाम मोर्चे के 25 साल के शासन को समाप्त करके सत्ता में आई है। प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार का मूल मंत्र विकास, सुशासन, लोगों की भागीदारी और सबका साथ सबका विकास होगा।प्रधानमंत्री मोदी ने कहा,‘‘ मैंने बतौर प्रधानमंत्री कई बार पूर्वोत्तर का दौरा किया है और मैं आप लोगों को बताना चाहता हूं कि भारत पूर्वोत्तर के साथ है, भारत पूर्वोत्तर के मसलों को समझता है और हर भारतीय पूर्वोत्तर के लोगों के साथ खड़ा है।’’
विप्लव देव ने त्रिपुरा यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन की है। उनके खिलाफ एक भी आपराधिक मामला दर्ज नहीं है। बनमालीपुर (पश्चिमी त्रिपुरा) में विप्लव का मुकाबला ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस के कुहेली दास से है। विप्लव ने नामांकन पत्र के साथ दिए ऐफिडेविट में अपनी आय मात्र 2,99,290 रुपये बताई थी। विप्लव कुमार लंबे समय से राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (आरएसएस) से जुड़े हुए हैं। या यूं भी कह सकते हैं कि राजनीति की शुरुआत उन्होंने आरएसएस से जुड़ने के बाद ही की है। 48 वर्षीय विप्लव साल 2018 में पहली बार चुनाव लड़े हैं।
शपथ ग्रहण समारोह में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, वरिष्ठ भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी ने भी भाग लिया। भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री, गुजरात के विजय रूपानी, मध्य प्रदेश के शिवराज सिंह चौहान, असम के सर्वानंद सोनोवाल, झारखंड के रघुवर दास तथा कई अन्य जानी मानी हस्तियों ने भी समारोह में शिरकत की।भाजपा नेता विप्लव कुमार देव ने त्रिपुरा के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। वाम मोर्चा के 25 साल के शासन का अंत कर पहली बार भाजपा त्रिपुरा की सत्ता पर काबिज हुई है। राज्यपाल तथागत रॉय ने असम राइफल्स ग्राउंड में आयोजित एक समारोह में देव को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने भी इस कार्यक्रम में शिरकत की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.