नेपाल में फिर से भूकंप के तेज झटके, सम्पूर्ण उत्तर भारत भी हिला

334

8083a0e65f4aaefa47cade83a9225b4fbc741148देश के कई हिस्सों समेत नेपाल, बांग्लादेश, पाकिस्तान और अफगानिस्तान में मंगलवार दोपहर भूकंप के तेज झटके से महसूस किए गए। भूकंप के तीन केंद्र थे। जिसमें से दो केंद्र नेपाल और एक केंद्र अफगानिस्तान था। नेपाल में एक केंद्र की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 7.3 और दूसरे की 6.2 मापी गई है। नेपाल के कोडारी में भूकंप का केंद्र जमीन से 18 किलोमीटर नीचे था। वहीं, अफगानिस्तान में भूकंप की तीव्रता रिएक्टर पैमाने पर 6.9 मापी गई है। भूकंप के तेज झटकों से एक बार फिर दशहत का माहौल कायम हो गया और लोग घरों से बाहर निकल कर सड़कों पर और खुले मैदानों में आ गए।
नेपाल-बिहार में लगातार बढ़ रहा है मौत का आंकड़ा
इस बीच, भूकंप से नेपाल में कई लोगों मारे जाने और कई इमारतें गिरने की सूचना है। काठमांडू से 80 किमी दूर कोडारी में कई मकान गिर गए हैं। अब तक यहां 28 लोगों की मौत होने की खबर है और 300 से ज्यादा लाेग घायल भी हुए हैं। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अकेले सिंधुपाल चौक में ही बारह लोगों की मौत होने की खबर है। बिहार में भी दस लोगों की मौत होने की खबर है लेकिन आपदा सचिव ने राज्य में भूकंप से तीन लोगों के होने की पुष्टि की है। इसके अलावा यहां पर 16 लोगों के घायल होने की भी खबर है।
फिर आएंगे कम तीव्रता के भूकंप के झटके
मौसम विभाग के अनुसार अभी कम तीव्रता वाले भूकंप के और झटके आ सकते हैं। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि भारत नेपाल की मदद को तैयार है। एनडीआरएफ की टीम को हाई अलर्ट पर रखा गया है। उन्होंने कहा कि भूकंप को लेकर रिपोर्ट मांगी है। अब तक बिहार में 13 लोगों के मरने की आशंका है।
पीएम ने बुलाई उच्चस्तरीय बैठक
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ताजा हालत की जानकारी ली और मामले में चार बजे एक उच्चस्तरीय बैठक बुलाई है। इसमें गृहमंत्री राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और रक्षा मनोहर पर्रिकर समेत वरिष्ठ अधिकारी शामिल होंगे।

भूकंप का केंद्र
भूकंप का केंद्र नेपाल-चीन सीमा के पास
चीन से करीब 22 किलोमीटर दूर भूकंप का केंद्र
काठमांडू से करीब 70 किलोमीटर दूर भूकंप का केंद्र
एवरेस्ट बेस कैंप के पास था भूकंप का केंद्र

नेपाल में भूकंप के झटकों की तीव्रता
पहला – 7.3
दूसरा – 6.2
तीसरा – 5.4
चौथ – 5.0
पांचवां – 4.8

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.