किसान क्रेडिट कार्ड से जमा निकासी आसान नही

25

फैजाबाद से हिमांशु श्रीवास्‍तव

बैंक आफ इन्डिया दुल्लापुर मे कमला देवी पत्नी हरिवँस अपने पति के खाते मे जमा पैसा निकालने के लिए डेढ वर्ष से काट रही बैक के चक्कर।अपना जमा पैसा निकालने के लिए एक सप्ताह तक दौडाया जा रहा है खाता धारकों को….।एक ओर बैंक परिसर मे कुछ क्षेत्र के लोग प्रतिदिन बने रहते है जिनकी आवभगत मे बैंक के क्रमचारी लगे रहते है..।

दुल्लापुर शाखा मे दो तरह की व्यवस्था

बैंक से जुडे कुछ लोग है जिनसे मिलने पर खाता धारक से लेकर किसान क्रेडिट कार्ड धारको को अविलम्ब हो जाता है लेनदेन।दुल्लापुर शाखा मे दो तरह की व्यवस्था है एक व्यवस्था के तहत सामान्य खाताधारक है जिनको चक्कर काटना पडता है दूसरी व्यवस्था कुछ विशेष लोगो के लिए है जिनको बैंक मे प्रवेश के साथ ही अविलम्व उनकी जमा व निकासी कर दी जाती है बैंक कैशियर द्धारा।अगर बैंक मे लगे सिसीटीवी कैमरे के फुटेज एक वर्ष के निकाले जाए तो बहुत हद तक खाताधारकों के साथ हो रहे दोहरे व्यवहार का पता चले साथ ही गरीब किसान के दर्द को भी देखा जा सकता है।फैजाबाद जनपद के मवई ब्लाक क्षेत्र के बैंक आफ इन्डिया दुल्लापुर शाखा मे खाताधारक आसानी से नही पा रहे अपना जमा धन।खाताधारकों को आधार आपडेट के नाम पर सप्ताह भर दौडाया जा रहा है।जबकी आधार आपडेट काम चन्द मिनट मे ही हो सकता है।क्षेत्र के नेवरा गाँव की कमला देवी वेवा अपने मृत्य पति के खाता पर जमा धन निकालने के लिए डेढ वर्ष से बैंक के चक्कर काट रही उसे बैंक मे तैनात कैशियर द्धारा यह कहकर लौटा दिया जाता है कि अगले दिन यह कागज ले आना जबकी सम्बन्ध प्रमाण पत्र से लेकर सभी जरूरी कागज बनवाकर लेकर वृद्ध महिला भटक रही है बैंक आफ इन्डिया की दुल्लापुर शाखा बैंक कर्मचारियों की लापरवाही का सबसे घटिया उदाहरण बन गई है।

LEAVE A REPLY