आंतकी हमले से बौखलाए PAK ने अफगानिस्तान में घुसकर की कार्रवाई

69

प्रसिद्ध सूफी संत लाल शहबाज कलंदर की दरगाह पर हमले से जागे पाकिस्तान ने अफगानिस्तान में आतंकी ठिकानों को निशाना बनाया है। दरगाह पर हुए हमले के तार सीमा पार के आतंकवादियों से जुड़े होने के पाकिस्तानी सेना के दावे के बाद यह कार्रवाई की गई। सिंध प्रांत के सेहवन स्थित दरगाह पर गुरुवार को हुए आत्मघाती धमाके में 88 लोगों की मौत हो गई थी।

जियो टीवी ने सैन्य सूत्रों के हवाले से बताया है कि अफगानिस्तान में आतंकी शिविरों पर शुक्रवार रात हमले किए गए। लेकिन, इस बाबत आधिकारिक तौर पर कुछ नहीं कहा गया है। यदि इन हमलों की पुष्टि हुई तो अफगान सरजमीन में पाकिस्तानी सेना का इस तरह का पहला अभियान होगा।

एक रिपोर्ट में बताया गया है कि पाकिस्तान के खैबर और मोहमंद कबायली एजेंसी के पार जमात-उल-अहरार के चार शिविरों पर हमले किए गए। कुछ रिपोर्टों में बताया गया है कि इन हमलों में अहरार के उप कमांडर आदिल बाचा समेत कई आतंकवादी मारे गए।

रिपोर्ट में अफगान मीडिया के हवाले से बताया गया है कि अफगानिस्तान ने देश के पूर्वी हिस्से में गोलाबारी को लेकर पाकिस्तानी राजदूत को तलब किया है। इससे पहले शुक्रवार को पाकिस्तानी सेना ने अफगान राजनयिकों को तलब करते हुए उन 76 वांछितों की सूची सौंपी थी जो पाक में आतंकी गतिविधियों का समर्थन करते हैं।

दरगाह पर हमले के तुरंत बाद पाकिस्तान ने दावा किया था कि हमले की साजिश अफगानिस्तान के आतंकवादी पनाहगाहों में रची गई है। यह टिप्पणी अफगानिस्तान और पाकिस्तान के बीच के रिश्तों में नई तल्खी ला सकती है। पाकिस्तानी अधिकारियों के हवाले से एपी ने बताया है कि चमन सीमा सील कर दी गई है। इससे पहले पाक ने अफगानिस्तान के नंगरहार प्रांत से लगने वाली तोरखाम सीमा भी बंद कर दी थी।

LEAVE A REPLY