ग्राम पंचायत पहाडीकलां में जिलाधिकारी ने लगायी चौपाल 

78

ललितपुर से हमारे संवाददाता मान सिंह

ग्राम पहाडीकलां में जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में जन चौपाल का आयोजन हुआ। ग्राम पहाडीकलां के हनुमान जी मंदिर प्रांगण में आयोजित जन चौपाल में जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने विकास कार्यों की बिन्दुवार समीक्षा की तथा ग्रामीणों प्रत्येक कराये गये कार्यों के बार में जानकारी ली। जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने कहा कि शासन की मंशानुसार विकास कार्यों को ग्राम प्रधान एवं ग्राम पंचायत विकास अधिकारी करायें तथा योजनाओं का लाभ पात्रों को देकर सरकार की मंशानुसार के अनुसार विकास कार्यों  को करायें। विकास कार्यों में रूचि न लेने लापरवाही बरतने पर संबंधितों के खिलाफ कडी कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। मिशन इन्द्रधनुष कार्यक्रम में लापरवाही बरतने पर एएनएम तथा समाज कल्याण विभाग द्वारा मृतक को पंेशन देने पर जिलाधिकारी ने फटकार लगायी तथा गलती न करने के निर्देश दिये।  जन चौपाल में जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने स्वच्छता पर बल देते हुए शौचालयों के निर्माण कार्य एवं उनके उपयोग की समीक्षा की। शौचालय निर्माण कार्य एक माह में पूरा देने का समय जिलाधिकारी द्वारा दिया गया। उन्होंने कहा कि जिन लोगों के शौचालय बन चुके हैं वे लोग निरंतर शौचालयों का उपयोग करें तथा खुले में शौंच को जाना बंद करें। कहा कि सरकार द्वारा अच्छे शौचालय दिये गयें हैं ताकि लोग अच्छे से उपयोग करें जिससे कि स्वच्छ भारत बनाने का सपना साकार हो तथा पहाडीकलां स्वच्छ गांव बन सके। इसके बाद जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा की जिसमें गांव के लोगों के द्वारा की गयी सिकायतों के संबंध में ग्रामीणों से संबाद कर सत्यता को जानने की कोशिश की। जिस पर पाया गया कि ग्रामीणों के द्वारा आवासों के संबंध में की जा रहीं सिकायतें निराधार हैं। द्वितीय किस्त जारी कर आवास निर्माण कार्य पूर्णं करायें। उन्होंने कहा कि जब एक वित्तीय वर्ष में लगभग 15 लाख तक के ही कार्य कराये जा सकते हैं तो ग्राम प्रधान ध्यान दें कि 15 लाख तक की ही कार्य योजना बनायें। जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारी मडावरा को निर्देश देते हुए कहा कि गांव के जिन लोगों के जाबकार्ड नहीं बनें हैं और वे मनरेगा में काम करना चाहते है गांव में शिविर लगाकर उनके नामों को लिखकर जाबकार्ड बनवाकर मनरेगा में काम देें। यह भी समीक्षा की जाये कि अब तक गांव में कितने जाब कार्ड धारकों को रोजगार कितने दिनों का दिया जा चुका है। बीडीओ के कार्य से संतुष्ट न होने पर मुझे बतायें। जिला समाज कल्याण अधिकारी कहा कि वृद्वा एवं विधवा पेंशन की धनराशि आ चुकी है। बैंक में जाकर पता करें जिनकों पेंशन का लाभ मिल रहा है। बताया कि मृतक को पेंशन दी जा रही है तथा जिंदा को मृतक बताकर पंेशन बंद कर दी गयी हैं जिस पर जिलाधिकारी एवं जिला समाज कल्याण अधिकारी ने सहायक विकास अधिकारी लक्ष्मण सिंह तोमर को फटकार लगाते हुए विधवां एवं वृद्वावस्था पात्रता सूची को ठीक करने के निर्देश दिये हैं। इन्द्र धनुष टीकाकरण कार्यक्रम में लापरवाही बरतने पर जिलाधिकारी ने एएनएम को कडी फटकार लगाते हुए कार्य में तेजी लेने तथा सुधार के कडे निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने ग्रामीणों की मांग पर गांव में निर्मित हो रहे शौचालयों एवं नालियों का भी निरीक्षण किया। उन्होने शौचालय निर्माण कार्य में गति लाने तथा सही मानक के अनुसार बनाये जाने हेतु निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने इसके साथ ही बाल विकास एवं पोषाहार, राजस्व विभाग, चकबंदी विभाग, विद्युत विभाग, शिक्षा विभाग, कृषि विभाग, खाद्य एवं आपूर्ति विभाग आदि के कार्यों की भी समीक्षा की। जन चौपाल में जिलाधिकारी को भारी संख्या में ग्रामीणों द्वारा समस्याओं से संबंधित प्रार्थना-पत्र सौंपे जिन पर कार्यवाही हेतु उन्होंने ग्रामीणों को भरोसा दिया। मुख्य विकास अधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार ने ग्राम प्रधान एवं ग्राम पंचायत विकास अधिकारी को फटकार लगाते हुए कहा कि इसके पूर्व बैंठकों आदि में इस संबंध में क्यों जानकारी नहीं दी गयी तथा आवास निर्माण कार्य की द्वितीय किस्त क्यों रोकी गयी। यदि पहले इसकी जानकारी दी जाती तो आवास निर्माण कार्यों की अतिशीघ्र जांच कराकर समस्या का समाधान किया जाता है। आवासों की द्वितीय किस्त जारी हो जाती जिससे कि आवास निर्माण कार्य जल्दी पूर्णं हो जाता। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों में लगने वाली सोलर लाईटों को नेडा के माध्यम से लगवायें। किसी अन्य प्राईवेट माध्यम से न लगवायें। जन चौपाल में जिला कृषि उपनिदेशक ने चौपाल में जानकारी दी कि जो किसान कृषि यंत्रों पर अनुदान लेना चाहते हैं वे पंजीकृत किसान भाई अपना पंजीयन संख्या के आन लाईन सहमति करा दें ताकि उन्हें अनुदान का लाभ मिल सके। सहमति की अंतिम तिथि 10 नवम्बर है। इसके साथ ही उन्होंने फसल बीमा के सम्बध में बताया कि गैर ़त्रणी कृषकों का बीमा कराने हेतु खतौनी, गाटा, आधार कार्ड, स्वयं का घोषणा पत्र, बैंक खाते की छाया प्रति, फसल बोये जाने का का घोषण पत्र, मोबाईल नम्बर जमा कराना आवश्यक है। किसान भाई जिला कोआर्डिंनेटर मनोज कुमार अग्रवाल युर्निवर्सल सोल्पो जनरल इंन्शोंरेंस कम्पनी लिमिटेड ललितपुर से संपर्क करें। बैठक में उपजिलाधिकारी मडावरा पदम सिंह, जिला विकास अधिकारी देवेन्द्र प्रताप सिंह, डीसी मनरेगा जय सिंह यादव, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 प्रताप सिंह, डीपीआरओ ब्रम्हचारी दुबे, अधिशाषी अभियंता जल निगम सुलेमान खां, विद्युत आकाश सचान, जिला कृषि उपनिदेशक संतोष कुमार, जिला पूर्ति अधिकारी आर0जे0 यादव, तहसीलदार गुलाब सिंह, खण्ड विकास अधिकारी बी0पी0 शुक्ला थे

LEAVE A REPLY