यूपी सरकार ने लॉन्‍च किया एक राष्‍ट्र, एक कर, एक पोर्टल

192

लखनऊ। व्‍यापार संबंधित सारे करों को एक ही में संजोने वाली जीएसटी व्‍यवस्‍था लागू होने की हरी झंडी मिलने के बाद अब यूपी सरकार पेपर लेस काम करने में जुट गई है। एक राष्‍ट्र, एक कर, एक पोर्टल लॉन्‍च थीम पर काम करने के लिए वाणिज्‍यकर विभाग ने www.gst.gov.in वेबसाइट लॉन्‍च की है। जिसके तहत जीएसटी से संबंधित सारे कर वेबसाईट के माध्‍यम से ऑनलाइन जमा किए जाएंगे। यहीं नहीं सारी सूचनाएं भी व्‍यापारियों तक ऑनलाइन ही पहुंचाई जाएगी। ऑनलाइन कर जमा करने के लिए पहले सभी व्‍यापारियों को पंजीकरण करना अनिवार्य होगा और जिसकी अंतिम अंतिम तिथि 30 अप्रैल रखी गई है।
विभाग की तरफ से जारी दिशा निर्देश के अनुसार जो व्‍यापारी वैट, केंद्रीय एक्‍साइज या सेवा कर पहले से भर रहे हैं उनको www.gst.gov.in पर लॉग इन करना होगा और जो प्रोविजनल आईडी व पासवर्ड उपलब्‍ध कराया गया है उससे लॉगइन करें और यूजर आईडी व पासवर्ड जेनरेट करना होगा। जिसके माध्‍यम से वह सारी सुविधाओं का लाभ प्राप्‍त कर सकेंगे। विभागीय अधिकारियों का दावा है कि जीएसटी से संबंधित सारी ऑनलाइन सर्विस जैसे पेमेंट, रिटर्न फाइलिंग, पंजीकरण
अमेन्‍डमेंट की सुविधा जीएसटी लागू होने के दिन से मिलना शुरू हो जाएंगी।

ऑनलाइन काम पर जोर दे रही है यूपी सरकार
प्रदेश में भाजपा सरकार आने के बाद ऑनलाइन काम पर अधिक जोर दिया जा रहा है। सुविधाओं में पारदार्शिता बनाएं रखने के लिए सरकार ने ऑनलाइन पर अधिक जोर दिया है। प्रदेश की योगी सरकार ने टेण्‍डर की सारी व्‍यवस्‍था ऑनलाइन कर दी है। जिससे इसमें किसी भी प्रकार की गड़बड़ी न हो सके। उसी क्रम में वाणिज्‍यकर विभाग ने प्रदेश सरकार की थीम एक राष्‍ट्र, एक कर, एक पोर्टल पर काम करना शुरू कर दिया है। विभाग जीएसटी सेवा लागू होने के बाद अधिक से
अधिक पेपर लेस काम करने के लिए सारी सुविधाएं ऑनलाइन करना चाहती है।

LEAVE A REPLY