गड़बड़झाला: बीजेपी सांसद ने मुंह पर जड़ा ताला

182

पैराडाइज पेपर्स में नाम आने पर नाम आने पर अकूत सम्पदा के मालिक बीजेपी सांसद ने आर के सिन्हा ने ल‍िख कर दी प्रत‍िक्र‍िया- मौन व्रत है संवाददाता ने जब उनसे प्रतिक्रिया जाननी चाही तो सिन्हा ने इशारों में ही संवाददाता से कलम मांगी और कागज पर लिखा, “7 दिन के भागवत यज्ञ में मौनव्रत है।”

पैराडाइज पेपर्स में नाम आने पर बिहार से बीजेपी के राज्य सभा सांसद रविन्द्र किशोर सिन्हा ने लिखकर प्रतिक्रिया दी है कि उनका मौन व्रत है। समाचार एजेंसी एएनआई के संवाददाता ने जब उनसे इस पर प्रतिक्रिया जाननी चाही तो सिन्हा ने इशारों में ही संवाददाता से कलम मांगी और कागज पर लिखा, “7 दिन के भागवत यज्ञ में मौनव्रत है।” बता दें कि पनामा पेपर की तर्ज पर लीक हुए पैराडाइज पेपर में बिहार से बीजेपी के राज्यसभा सांसद रविन्द्र किशोर सिन्हा का भी नाम है।
सिन्हा साल 2014 में बिहार से राज्यसभा सांसद चुने गए हैं। वो संसद के ऊपरी सदन में सबसे अमीर सांसदों में एक हैं। सिन्हा एक पूर्व पत्रकार हैं, जिन्होंने सिक्योरिटी एंड इंटेलिजेंस सर्विसेज (एसआईएस) नाम से प्राइवेट सिक्योरिटी सर्विस फर्म की स्थापना की है। सिन्हा एसआईएस ग्रुप को हेड करते हैं। इनके फर्म के संबंध दो विदेशी कंपनियों से भी हैं। माल्टा के रजिस्ट्री डिपार्टमेंट के दस्तावेजों के मुताबिक एसआईएस एशिया पैसिफिक होल्डिंग्स लिमिटेड (एसएपीएचएल) साल 2008 में माल्टा में रजिस्टर्ड हुई है। यह एसआईएस की सहयोगी कंपनी है। रविन्द्र किशोर सिन्हा इस कंपनी के छोटे से शेयरहोल्डर हैं जबकि उनकी पत्नी रीता किशोर सिन्हा इस कंपनी (एसएपीएचएल) की डायरेक्टर हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here