ले लिया बदला: कश्मीर के बडगाम में 3 हिजबुल आतंकी ढेर

163

न्‍यूज नेटवर्क 24 टीम
श्रीनगर। अमरनाथ यात्रियों पर हमले से पूरा देश गुस्‍से में है। सेना ने भी अपना कर्तव्‍य निभाते हुए कश्मीर के बडगाम डिस्ट्रिक्ट में बुधवार सुबह सिक्युरिटी फोर्सेज के साथ हुए एनकाउंटर में 3 आतंकी मारे गए। इनके पास से भारी मात्रा में हथियार और गोलाबारूद बरामद हुआ है। आतंकी हिजबुल-मुजाहिदीन के बताए जा रहे हैं। दोनों तरफ से फायरिंग मंगलवार शाम करीब 7.30 बजे शुरू हुई थी। सर्च ऑपरेशन के दौरान आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी थी। सिक्युरिटी फोर्सेज और आतंकियों के बीच एनकाउंटर बडगाम के महागाम एरिया के राडबुग गांव में हुआ।
इलाके में आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी, जिसके बाद सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स, राष्ट्रीय रायफल्स और राज्य पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप के जवानों ने इलाके को घेर लिया।
सर्च ऑपरेशन के दौरान ही आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवानों ने भी इसका जवाब दिया। कई घंटों तक चली गोलीबारी में 3 आतंकी मारे गए। इनमें से 2 आतंकी बडगाम के ही रहने वाले थे।
अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमले में 7 श्रद्धालुओं की मौत
इससे पहले, कश्मीर के अनंतनाग के बंटिगू एरिया में सोमवार रात आतंकियों ने अमरनाथ यात्रियों की बस पर हमला किया था। इसमें 7 यात्रियों की मौत हो गई थी। 15 तीर्थयात्री जख्मी भी हुए। मरने वालों में 5 महिलाएं भी थीं। हमले के शिकार 3 यात्री गुजरात, 2 दमन और 2 महाराष्ट्र के थे। यात्रा पूरी कर सभी जम्मू लौट रहे थे।
आमतौर पर सभी श्रद्धालुओं की गाड़ियां सुरक्षा दस्ते के बीच चलती हैं। सोमवार को गाड़ियों का काफिला शाम 4 बजे लौट गया था, आतंकियों का शिकार बनी इस बस का टायर पंक्चर हो गया था। इस कारण यह काफिले से अलग हो गई थी। बस बालटाल से मीर बाजार जा रही थी। उसमें 60 श्रद्धालु सवार थे। बस का अमरनाथ श्राइन बोर्ड में रजिस्ट्रेशन नहीं था।  बताते चलें कि  2000 में भी आतंकियों ने अमरनाथ यात्रियों को पहलगाम में निशाना बनाया था। तब हुए हमले में 17 श्रद्धालुओं समेत 27 लोगों की मौत हुई थी। 36 घायल हो गए थे। 2007 में भी अमरनाथ यात्रियों की बस को निशाना बनाया गया था। उस हमले में कई लोग घायल हुए थे।
कुपवाड़ा में घुसपैठ की कोशिश नाकाम, 3 आतंकी ढेर
कुपवाड़ा सेक्टर में सोमवार को सेना ने आतंकी घुसपैठ की एक बड़ी साजिश नाकाम कर दी। इस दौरान 3 आतंकी मारे गए। इस बीच, पाकिस्तान को सख्त मैसेज देते हुए सरकार ने पुंछ-रावलकोट बस सर्विस एक हफ्ते के लिए सस्पेंड कर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.