NSG में सदस्यता पर भारत को मिला न्यूजीलैंड का समर्थन

118

modi-with-new-zealand-pmनई दिल्ली। भारत को एनएसजी में अब न्यूजीलैंड का समर्थन मिल चुका है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने न्‍यूजीलैंड के प्रधानमंत्री ‘जॉन की’ से मुलकात के बाद यह बात कही। न्‍यजीलैंड के प्रधानमंत्री इस समय भारत दौरे पर हैं। पीएम मोदी ने कहा कि जॉन की से द्विपक्षीय और बहुपक्षीय सहयोग पर विस्तृत और लाभदायी चर्चा हुई है। व्यापार और निवेश को लेकर भी चर्चा हुई।

आतंकवाद मुद्दा पर चर्चा
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर आतंकवाद का मुद्दा उठाते हुए कहा कि आतंकवाद वैश्विक शांति को प्रभावित करने में प्रमुख चुनौतियों में से एक है। दोनों देशों के बीच आतंकवाद के खिलाफ सुरक्षा और खुफिया सहयोग को मजबूत करने को लेकर बात हुई है। पीएम मोदी ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में स्थायी सदस्य के रूप में भारत को शामिल करने के न्यूजीलैंड के समर्थन का धन्यवाद किया।

वहीं न्यूजीलैंड के पीएम जॉन की ने कहा कि, न्यूजीलैंड और भारत पहले से ही एक बहुत मजबूत संबंध साझा करते हैं। जॉन ने कहा, चाहे वो व्यापार में हो या क्रिकेट में हो। जॉन की ने भी आतंकवाद के मुद्दे पर भारत की चिंताओं पर सहमति जताई। और कहा कि, हम भी अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद सहित सुरक्षा के मुद्दों पर सीमा पर घनिष्ठ समन्वय जारी रखने पर सहमत हैं।

न्यूजीलैंड के पीएम जॉन ने भारत के एनएसजी सदस्यता पर भी सहमति जताई। और कहा कि मैं और मोदी ने भारत के एनएसजी के एक सदस्य बनने के बारे में चर्चा की। मैं भारत के एनएसजी में शामिल होने के महत्व को स्वीकार करता हूं। जॉन ने कहा कि न्यूजीलैंड भारत को एनएसजी का मेंबर बनाने के लिए प्रयास करता रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here