चारा घोटाले में लालू यादव पर चलेगा आपराधिक मुकदमा

120

पटना। चारा घोटाले में बुरी तरह फंसे लालू यादव को राहत के आसार नजर नहीं आ रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट सोमवार को तय किया कि 950 करोड़ रुपये के चारा घोटाले के एक मामले में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ आपराधिक साजिश का मुकदमा चलेगा। सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई की दलील स्वीकार करते हुए कहा कि चारा घोटाले में हर केस का अलग से ट्रायल होगा। लालू प्रसाद के साथ ही जगन्नाथ मिश्रा और पूर्व नौकरशाह सजल चक्रवर्ती पर भी मुकदमा चलेगा। सुप्रीम कोर्ट ने ट्रायल कोर्ट को जल्द सुनवाई पूरी करने को कहा है और 9 महीने में ट्रायल पूरा करने निर्देश दिया है।

क्‍या था मामला
यह मामला 1990 के दशक का है, उस समय चाईबासा कोषागार से अवैध निकासी के लिए लालू प्रसाद सहित अनेक अधिकारियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी। सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले पर 20 अप्रैल को ही बहस पूरी करने के बाद अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। विदित हो कि झारखंड हाई कोर्ट ने चाईबासा कोषागार से अवैध निकासी को लेकर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के खिलाफ चलाए जा रहे मामले को समाप्त कर दिया था। जबकि सीबीआइ ने दावा किया था कि अन्य अधिकारियों के साथ-साथ लालू प्रसाद भी अप्रत्यक्ष रूप से अवैध निकासी में संलिप्त थे।

सीबीआई ने लगाये थे आरोप
सीबीआइ ने उन पर षडयंत्र करने का आरोप लगाया था। उल्लेखनीय है कि फर्जी कागजात प्रस्तुत कर चाईबासा कोषागार से लाखों रुपये की अवैध निकासी कर ली गई थी। झारखंड हाई कोर्ट द्वारा राजद सुप्रीमो को क्लीन चिट दे देने के बाद सीबीआइ ने सुप्रीम कोर्ट में विशेष अनुमति याचिका (एसएलपी) दायर की थी, जिस पर फैसला सुरक्षित रखा गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here